कैंसर की मरीज़ों में बॉडी मास इंडेक्स की कमी से निबटने के लिये टेस्टोस्टेरॉन हॉर्मोन थेरेपी का उपयोग किया जा सकता है. इस थेरेपी की खोज अमेरिका की