आज भी भारतवर्ष में कई  ऐसे गांव हैं जहां अपनी इज़्ज़त की खातिर कोई भी किसी की जान ले लेता है. शशांक खैतान निर्देशित बॉलीवुड फिल्म धड़क भी यही