बुक रिव्यू:अमेज़न ओभिजान ग्राफ़िक नॉवेल

बुक रिव्यू:अमेज़न ओभिजान ग्राफ़िक नॉवेल
लेखक :कमलेश्वर मुख़र्जी
इलस्ट्रेशन एवं आर्ट वर्क :अर्घ्य दास
ग्राफ़िक नावेल स्क्रिप्ट:अनिशा ब्रह्मा
प्रूफ एवं एडिटिंग:रिद्धि मित्रा
पब्लिशर:बी बुक्स
मूल्य:१५० रुपये (इंग्लिश वर्ज़न-अमेज़न एडवेंचर),१०० रुपये (बांग्ला वर्ज़न-अमेज़न ओभिजान)

 

 

मार्केटिंग का फंडा अगर सही हो, तो बाजार में कोई भी प्रोडक्ट बेचना आसान हो जाता है. और इसी के मद्देनजर एसवीएफ एंटरटेनमेंट ने अपनी आनेवाली बांग्ला फिल्म अमेज़न ओभिजान के रिलीज़ होने से पहले अमेज़न ओभिजान की ग्राफ़िक नॉवेल की लॉन्चिंग की.

एक ज़माने में महान साहित्यकार बिभूतिभूषण बंद्योपाध्याय की नावेल चादेर पहाड़ काफी लोकप्रियता हासिल की थी. और आगे चलकर उसपर निर्देशक कमलेश्वर मुख़र्जी ने एक फिल्म भी बनाई चादेर पहाड़, जिसको काफी लोगों ने सराहा था. चादेर पहाड़ में एक नवजवान लड़के शंकर की अफ्रीका के जंगलों में की गई दुस्साहसिक यात्रा को दिखाया गया. अब निर्देशक कमलेश्वर मुख़र्जी के दिमाग में आया कि अगर वही शंकर अमज़ोनिया के भयंकर जंगलों का अभियान करें तो कैसा रहेगा. फिर क्या था उन्होंने उस पर पूरी कहानी लिख डाली, जिसे ग्राफ़िक नावेल के रूप में प्रस्तुत किया एसवीएफ एंटरटेनमेंट ने. जिसे दर्शक २२ दिसंबर २०१७ को बारे पर्दे पर देख पाएंगे

७१ पृष्ठों की अमेज़न ओभिजान-ग्राफ़िक नॉवेल में शंकर की अमेज़ोनिया के भयंकर रेनफॉरेस्ट अभियान को दर्शाया गया है. जहां शंकर और एना नामक एक लड़की का एल डोराडो (सिटी ऑफ़ गोल्ड) पहुंचने तक के सफर को बयां किया गया है. कई चुनौतियों का सामना कर दोनों कैसे अपने लक्ष्य तक पहुंच पाते हैं यह अपने आप में एक कुतूहल पैदा करती है. अमेज़ोनिया के महिला योद्धाओं(दी वर्जिन्स ऑफ़ दी सन) का भी ज़िक्र इस नावेल में है जो कहानी के क्लाइमेक्स तक का हिस्सा बनी. किताब के हर एक पृष्ट में इस तरह की चित्रकारी की गई है कि आपको यह महसूस होने लगेगा कि आप कोई फिल्म देख रहे हैं. हर एक चित्र की वर्णना अत्यंत संक्षेप में की गई है. लेकिन उस वर्णना में कोई कमी नहीं है. उस में एक लय है, धारा है जो निरंतर आपको अगले पृष्ट में ले जाने के लिए मज़बूर करती रहेगी, जब तक आप इस नावेल के आखरी पन्ने तक न पहुंच जाएं.पूरी नावेल कलरफुल होने की वजह से इसका महत्व और भी बढ़ जाता है. कहानी वाकई दिलचस्प और रोमांचक भी है. इसके उपरांत आपको इस नावेल के ज़रिये अमेज़न रेनफॉरेस्ट के बारे में जानकारी भी हासिल होगी जिसका अधिकांश हिस्सा ब्राज़ील, पेरू, कोलंबिया और कुछ हिस्सा वेनेज़ुएला, इक्वेडर, बोलीविया, गुयाना, सुरिनेम और फ्रेंच गुयाना में है. बेशक यह नावेल बच्चों से लेकर बूढ़े तक तो लुभाएगी. बच्चों के लिए यह नावेल एक प्रेरणा का श्रोत बन सकती है. यूं कहा जा सकता है कि आपको आपके बचपन से एक बार ज़रूर रूबरू करवाएगी अमेज़न ओभिजान-ग्राफ़िक नॉवेल. और तो और नावेल के कवर पेज में सुपरस्टार देव के हस्ताक्षर भी हैं. देव के फैंस के लिए यह एक अलग प्राप्ति हो सकती है.  इतना दावे के साथ कहा जा सकता है अमेज़न ओभिजान ग्राफ़िक नॉवेल पाठकों को सिनेमाघरों तक खींच कर ले जाने में सक्षम भी होगी.

तो अब किस बात की देर है, पेपरबैक एडिशन के लिए फ्लिपकार्ट और अमेज़न पर जाकर यह नावेल आर्डर कर सकते हैं. डिजिटल वर्ज़न आपको किंडल, जग्गरनॉट और डेलीहंट में उपलब्ध होगा. वैसे ऑक्सफ़ोर्ड बुक स्टोर्स(कोलकाता, मुंबई और दिल्ली), फुल सर्कल बुक स्टोर(दिल्ली), वेवर्ड वाइज(मुंबई), बुकवर्म(बैंगलुरु), और स्टारमार्क(चेन्नई) से भी यह हासिल कर सकते हैं.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *